Dog based crypto token Shih Tzu makes Rs 1000 into Rs 60 lakh within 2 hours check how varpat – Cryptocurrency


नई दिल्ली. क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) को अस्थिरता का पर्याय बनाया जा सकता है, क्योंकि इसमें रातोंरात निवेशक या तो अमीर बन जाते हैं या फिर कंगाल. इन दिनों कुछ क्रिप्टोकरेंसी अपनी चाल से सबको चौंका रही हैं. एक नई क्रिप्टोकरेंसी ने सोमवार को ताबड़तोड़ रिटर्न दिया है. यह करेंसी है- शिह त्ज़ु (Shih Tzu). इस क्रिप्टोकरेंसी का नाम चीनी नस्ल की डॉग ब्रीड पर है. Shih Tzu टोकन में पिछले दो घंटों में जबरदस्त तेजी देखी गई है. इकनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सोमवार को इस क्रिप्टोकरेंसी करीब 6,00,000 पर्सेंट का उछाल आया.

निवेशकों को हुआ 59.99 लाख रुपये का फायदा
क्वॉइनमार्केटकैप (Coinmarket cap) की आंकड़ों के मुताबिक, सोमवार को Shih Tzu टोकन में 2 घंटे में ही 6 लाख पर्सेंट की तेजी नजर आई. डिजिटल टोकन Shih Tzu बहुत थोड़े समय में ही 0.000000009105 डॉलर से 0.00005477 डॉलर के स्तर पर पहुंच गई. इस डिजिटल टोकन में 1,000 रुपये का इनवेस्टमेंट सिर्फ 2 घंटे में ही 60 लाख रुपये में बदल गया. एक्सचेंज में इस डिजिटल टोकन का वॉल्यूम भी 65 फीसदी तक बढ़ गया.

ये भी पढ़ें- LPG Subsidy: खुशखबरी! रसोई गैस सिलेंडर पर मिल रही है सब्सिडी, ग्राहकों के खाते में 237 रुपये ट्रांसफर, यहां करें चेक?

Crypto Fraud से बचाने के उपाय
बता दें कि जैसे-जैसे क्रिप्टोकरेंसी की मांग बढ़ रही है, उसी तरह इसमें घोटाले और फर्जीवाड़े की घटनाओं में भी इजाफा हो रहा है. इसलिए किसी भी तरह की क्रिप्टो में निवेश करने से पहले उसके बारे में पूरी तरह से छानबीन अवश्य कर लेनी चाहिए. सोशल मीडिया पर तमाम फर्जी क्रिप्टो एक्सचेंज और टोकन मौजूद हैं जो कुछ दिनों में अमीर बनने का सपना दिखा रहे हैं. हर वह निवेशक और गैर निवेशक, जो कम समय में ज्यादा मुनाफा कमाने या अमीर बनने के चक्कर में रहते हैं, धोखेबाजों के हमेशा निशाने पर रहते हैं. क्योंकि क्रिप्टोकरेंसी का बिजनेस पूरी तरह से स्वतंत्र है. इस पर ना तो किसी सरकार का शिकंजा है और ना ही किसी बैंक का.

ये भी पढ़ें- Latent View IPO- निवेशकों की बल्ले-बल्ले! लेटेंट व्यू की शानदार लिस्ट‍िंग, 197 का शेयर 512 रुपये का हुआ

फर्जी क्वाइन की कैसे करें पहचान
किसी भी क्वाइन की सत्यता परखने के लिए हमें देखना होगा कि वह कम समय में बहुत ज्यादा रिटर्न का वादा तो नहीं कर रहा है.
फर्जी टोकन की पहचान करने का एक और तरीका यह है कि अगर क्रिप्टो सस्ता देने का वादा करने वाले स्कैमर निवेशकों से बैंक अकाउंट के सत्यापन के लिए उन्हें कुछ क्वाइन भेजने के लिए कहते हैं. अगर वे आपकी बैंक खातों की जानकारी जुटा रहे हैं तो समझें कि वह क्वाइन पूरी तरह से फर्जी है.
एक्सपर्ट कहते हैं कि कुछ हैकर्स बड़ी हस्तियों के सोशल मीडिया पेज को हैक करके उनके माध्यम से किसी विशेष क्रिप्टो में तुरंत मोटा मुनाफा देने का वादा करते हैं. इस तरह के वादों और दावों से निवेशकों को हमेशा सावधान रहना चाहिए.

Tags: Bitcoin, Business news in hindi, Cryptocurrency, Earn money, How to earn money





Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.

x
%d bloggers like this: