Facebook Badalkar Hua Meta Isme virtual reality par focus

Meta

फेसबुक के सीईओ मार्क जूकरबर्ग ने गुरुवार को फेसबुक के एनुअल कॉन्फ्रेंस में नए नाम का Meta ऐलान किया है। कंपनी ने खुद को नए नाम Meta के साथ किया री-ब्रांड कर, वर्चुअल-रियलिटी पर फोकस करेंगी।

Certainly दुनिया भर में पॉपुलर और सबसे बड़े मीडिया प्लेटफार्म Facebook को तो सारी दुनिया के लोग जानते है। अब इस मीडिया प्लेटफॉर्म को एक नई पहचान मिली है, जिसे Meta कहा जा रहा है। फेसबुक के सह. संस्थापक And CEO, Mark Zuckerberg ने गुरुवार को कंपनी के एनुअल कॉन्फ्रेंस में नए फेसबुक के नए नाम का ऐलान किया है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक का नया नाम Meta रखा गया है. यह एक ग्रीक भाषा का शब्द है, जिसका अर्थ Beyond होता है। Mark Zuckerberg का कहना था कि हम भविष्य के वर्चुअल-रियलिटी विजन (मेटावर्स) के लिए अपने को री-ब्रांड कर रहे हैं

 

Company का नाम बदलकर Meta-verse

कंपनी के नाम बदले जाने को लेकर मार्क जूकरबर्ग ने बताया की यह बदलाव मेटावर्स पर फोकस करने के लिए किया गया है। Firstly कॉन्फ्रेंस में खा गया की भविष्य में ही दुनिया की रियलिटी होगा And कंपनी ने भी मेटावर्स टेक्नोलॉजी में पीछे नहीं रहना चाहती। There for so काल्पनिक और डिजिटल दुनिया की तरह है मेटावर्स, जहां आप डिजिटल आइडेंटिटी के साथ प्रवेश कर पाएंगे। इस डिजिटल वर्ल्ड में आप घूमने से लेकर, शॉपिंग और दोस्तों व रिश्तेदारों से मिल भी पाएंगे। 

1 December Se Hoga Badlab

However कंपनी के एनुअल कॉन्फ्रेंस में मार्क जूकरबर्ग ने बताया कि एक दिसंबर से फेसबुक का सिंबल बदल दिया जायेगा। तब FB की जगह MVRS के नाम से जाना जाएगा। इसके साथ ही ट्रेडिंग में फेसबुक का सिंबल MVRS हो जाएगा। Consequently मार्क जूकरबर्ग का कहना है कि हम लोगों को जोड़ने के लिए टेक्नोलॉजी बनाते हैं। इस बदलाव के साथ हम फेसबुक को मेटावर्स कंपनी के तौर पर लोगों के सामने रखना चाहते हैं। फेसबुक अंब्रेला के अंतर्गत आने वाले सोशल मीडिया ऐप्स – फेसबुक, इंस्ग्राम, व्हाट्सऐप के नाम नहीं बदले गए है। यह गूगल की पेरेंट ‘अल्फाबेट’ की तरह फेसबुक की पेरेंट कंपनी अब मेटावर्स के नाम से जानी जाएगी।

But पिछले काफी समय से विवादों में घिरे फेसबुक नए नाम से साथ अपने पुराने विवादों पर पर्दा डालना चाहता है। मार्क जूकरबर्ग का कहना था कि हम भविष्य के वर्चुअल-रियलिटी विजन (मेटावर्स) के लिए अपने को री-ब्रांड कर रहे हैं। हमारे लिए अब फेसबुक फर्स्ट की जगह मेटावर्स फर्स्ट होगा।

Meta-verse Technology कैसे करती है

Secondly आपने वीआर (वर्चुअल रियलिटी) तो काफी बार सुना होगा। इसके साथ ही आपने कई बार इसका इस्तेमाल भी किया होगा। मेटावर्स वीआर का डेवलवर्जन है। यह मेटावर्स ऑग्मेंटेड रियलिटी, वर्चुअल रियलिटी, मशीन लर्निंग, ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस जैसे कई टेक्नोलॉजी के साथ काम करता है। फिलहाल मेटावर्स टेक्नोलॉजी अपने शुरुआती दौर में हैं और इसे पूरी तरह डेवलप होने अभी 10 से 15 साल का वक्त लगेगा।

 

 

  • aakhir kya he PTC sites? kese PTC sites se kama sakte hein laakhon rupay

As a result हम आशा करते है की ये आर्टिकल आप लोगो को पसंद आया होगा। गैजेट्स एंड टेक से जुड़ी नयी जानकारी पाने के लिए Suggest2u.com को (Twitter, Instagram, Facebook) पर फॉलो करे। आप हमे E-Mail के माध्यम से अपने सुझाव और सवाल हमारे E-Mail :- info@suggest2u.com पर भेज सकते है!

2 thoughts on “Facebook Badalkar Hua Meta Isme virtual reality par focus”

  1. Pingback: Moto G200 with 108MP, 144Hz display, Launch & Specification - Suggest2u

  2. Pingback: New Small Business Ideas in Hindi - Suggest2u

Leave a Comment

Your email address will not be published.

x
%d bloggers like this: